वाट्सएप पेमेंट सर्विस के खिलाफ कोर्ट में दायर हुई याचिका, भारत में खोलना होगा अपना ऑफिस

New Delhi: वाट्सएप ने कुछ दिनों पहले भारत में अधिक इस्तेमाल को देखते हुए एक नया एप शरू किया था। वाट्सएप ने अपनी पेमेंट फीचर सर्विस शरू की जिसके बाद हर कोई इसका इस्तेमाल करता नजर आया था। लेकिन अब वाट्सएप के खिलाफ सुप्रीम कोर्ट में याचिका दायर की गई है। 

गौरतलब है कि, वाट्सएप एक ऐसा एप है जिसको फेसबुक से भी अधिक लोग इस्तेमाल करते हैं। भारत में बढ़ते डिजिटल पेमेंट सर्विस को देखते हुए वाट्सएप ने भी अपना स्पेशल पेमेंट सर्विस एप लांच किया जिसके बाद इसको लेकर कई सवाल खड़े हुए और हंगामा भी देखने को मिला। ऐसा कहा गया कि, यह सर्विस सुरक्षा के पैमाने पर खरी नहीं उत्तर रही है। साथ ही अब जब तक वाट्सएप आरबीआई के नियमों पर खरा नहीं उतरेगा, तब तक सर्विस पर रोक लगा दी जाएगी।

तो वहीं अब वाट्सएप पेमेंट सर्विस के खिलाफ सुप्रीम कोर्ट में याचिका दायर की गई है. याचिका में कहा गया है कि बैंक खाता खोलने के लिए ग्राहक को केवाईसी नियमों के साथ रिजर्व बैैंक द्वारा तय कई अन्य प्रावधानों को पूरा करना होता है। ‘‘वॉट्सऐप एक विदेशी कंपनी है, जिसका भारत में सर्वर नहीं है और कोई कार्यालय भी नहीं है. भारत में भुगतान सेवाएं शुरू करने के लिए वॉट्सऐप को भारत में कार्यालय खोलना होगा और भुगतान भी भारत में होने चाहिए। 

 

ऐसे में अब देखना होगा कि, आखिर वाट्सएप की तरफ से इस मामले पर क्या प्रतिक्रया आती है। साथ ही याचिका के तहत यह भी कहा गया है कि, इसके साथ ही वॉट्सऐप को एक शिकायत अधिकारी की भी भारत में नियुक्ति करनी होगी ताकि ग्राहक उसके समक्ष अपनी परेशानी रख सकें। इसके बावजूद बिना किसी निगरानी के कंपनी को अपनी भुगतान सेवाओं के साथ आगे बढ़ने की अनुमति दी जा रही है। तो जल्द ही अब वाट्सएप को अपने फैसला लेना होगा।

इस नियम को ना मानने पर कंपनी को भारी नुकसासन पहुंच सकता है. तो अब हो स्काट है कि, कुछ दिनों के लिए वाट्सएप की पेमेंट सर्विस बंद हो जाएगी।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *