चुनाव से पहले WhatsApp भी हुआ सख्त, फेक न्यूज की पहचान करने के लिए जारी किया हेल्पलाइन नंबर

Quaint media

New Delhi: देश में इन दिनों चुनाव को लेकर काफी सख्ती दिखाई जा रही है। इस साल चुनाव आयोग ने सोशल मीडिया पर एडवाइजरी जारी करते हुए यह कहा था कि, सोशल मीडिया पर किये जाने विज्ञापन से लेकर कैम्पेन सभी की पूरी जानकारी देनी होगी। वहीं इस कड़ी में अब व्हाट्सअप ने भी चुनाव से पहले फेक न्यूज और गलत जानकारी को रोकने एक लिए खास हेल्पलाइन नंबर जारी किया है।

 

अब नहीं होगा फेक खबरों का खेल

पिछले लंबे समय से उठ रहे सवालों के बाद अब सोशल मीडिया एप्स 2019 के चुनाव से पहले कई ख़ास पहल कर रहे हैं। इसी बीच अब Whatsapp ने फेक न्यूज और गलत जानकारी को रोकने ले लिए ख़ास इंतजाम किये हैं। दरअसल Proto एक Checkpoint Tipline फैक्ट चेक करने वाली लोकल स्टार्टअप है जहां फर्जी खबरों का फैक्ट चेक किया जाएगा। जो फर्जी खबर होगी वहां False, Misleading या Disputed का लेबल दिया जाएगा। वहीं अगर वाट्सएप पर शेयर हो रही खबर सही है तो उसपर True का लेबल मिलेगा। ऐसे में हर व्हाट्सएप यूजर आराम से यह पहचान कर सकेगा की वह जो शेयर कर रहा है वह सही है एक गलत।

Quaint media

हेल्पलाइन नंबर के जरिये लगेगी फर्जी खबरों पर रोक

फेक न्यूज और अफवाह को रोकने के लिए चैटिंग प्लेटफॉर्म WhatsApp की तरफ से एक हेल्पलाइन नंबर जारी किया गया है। इस नए फीचर के तहत आप 9643000888 नंबर पर कोई ऐसे मैसेज फॉरवर्ड कर सकते हैं जिस पर आपको शक है। टीम खबरों को वेरिफाई करेगी और सच या झूठ है ये बताएगी।

हेल्पलाइन नंबर पर मैसज करने के बाद होगी पूरी जांच

आपकी जानकारी के लिए बता दें कि, फर्जी खबरों की पहचान तो इस फीचर ऐसे हो जायेगी। उसके बाद वाट्सएप यूजर की ओर से संदिग्ध मैसेज की जानकारी मिलते ही प्रोटो की टीम उस मैसेज के बारे में पड़ताल करेगी। इसके बाद यूजर को बताया जाएगा कि मैसेज में दी गई जानकारी सही है, गलत है। हालत होने पर उसको फॉरवर्ड होने पर रोक लगा दिया जायेगा।

About Ashish

Enthusiast, Creative and Fair flair Writing

View all posts by Ashish →